Thursday, October 6, 2011


पावन
पर्व दशहरा आज है आया,

असत्य पे सत्य का ध्वज फहराया,
दुर्गा बनकर महिषासुर का किया नाश,
सदैव सत्धर्म का विजय घोष सुनाया !

29 comments:

Bhushan said...

आपको भी दशहरे की ढेरों शुभकामनाएँ.

Rakesh Kumar said...

ओह!बहुत सुन्दर प्रस्तुति है,बबली जी.

विजयादशमी पर्व की आपको भी ढेर सी शुभकामनाएँ

आपके आस्ट्रलिया में दुर्गा पूजा और दशहरा किस प्रकार से मनाये जाते हैं

Dr.Ashutosh Mishra "Ashu" said...

maa durga papiyon ka naash karein..aapki is behtarin prastuti per aapko hardik badhayee

प्रेम सरोवर said...

माँ दुर्गा सदा आप पर अपनी कृपादृष्टि बनाए रखें । धन्यवाद ।

सुरेन्द्र "मुल्हिद" said...

babli ji...durga pooja aur nav-utsav ki haardik shubhkaamnaayein!!

देवेन्द्र पाण्डेय said...

आपको भी रावण वध की ढेर सारी बधाई।
दीपावली की तैयारी कीजिए।

mahendra verma said...

विजयादशमी पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।

रविकर said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति ||
शुभ विजया ||

BK Chowla, said...

My best wishes to all friends here on this day of Dussera

dheerendra11 said...

बहुत ही सुन्दर,आप सिर्फ चार लाइने ही क्यू लिखती है,रचनाएँ थोडा बड़ी लिखे तो पाठकों को और अच्छा लगेगा,राय के लिए छमा चाहूँगा,

विजयादशमी की शुभकामनाये...

सदा said...

वाह ...दशहरे की शुभकामनाएं के साथ बधाई ।

वन्दना said...

विजयादशमी पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।

mark rai said...

पावन पर्व दशहरा आज है आया,
असत्य पे सत्य का ध्वज फहराया,
दुर्गा बनकर महिषासुर का किया नाश,
सदैव सत्धर्म का विजय घोष सुनाया.....

दशहरे की ढेरों शुभकामनाएँ.........

Manish Kr. Khedawat " मनसा " said...

aapko bhi hardik shubhkamnaye babli zi :)
___________________________________
किसे जलाये - रावण को या राम को ???

malkeet singh "jeet" said...

आपकी रचनाये दिल को छू लेने वाली है
विजय दशमी क रावण मेरे ब्लॉग पर आकर जरुर पढ़े व् प्रतिक्रिया भी दे

http://jeetrohann1.blogspot.com/

SAJAN.AAWARA said...

bahut acha...
aapko bhi subhkaamnayen..
jai hind jai bhararat

daanish said...

काव्य रूप में
पावन सन्देश मन भाया ...

शुभकामनाएँ

डॉ टी एस दराल said...

आपको दशहरे की हार्दिक शुभकामनायें ।

ओमप्रकाश यती said...

पावन और प्रासंगिक रचना के लिए बधाई.

Dr Varsha Singh said...

बिलकुल सही कहा आपने! बढ़िया प्रस्तुति....

विजयादशमी पर आपको भी ढेर सी शुभकामनाएँ.

Arvind Mishra said...

सचमुच असत्य पर सत्य की विजय ...बहुत शुभकामनाएं ! महिषासुर मर्दिनी माँ काली सदैव आप पर कृपालु रहें ..सुन्दर साहित्यिक जायका और स्वाद का जायका मनये रखें इसी तरह अनवरत !

Anonymous said...

happy Dusshera..
God Bless... all
very nicely expressed!
A Victory over evil!

shephali said...

सचमुच असत्य पर सत्य की विजय .के प्रतीक को दर्शा दिया......
ऐसी ही और कविताये पढने के लिए मेरे शब्द पे जाये.........

Sunil Kumar said...

दशहरे की हार्दिक शुभकामनायें ।

Kunwar Kusumesh said...

विजयादशमी पर आपको भी ढेर सी शुभकामनाएँ.

श्रीप्रकाश डिमरी /Sriprakash Dimri said...

आपको पर सपरिवार हार्दिक शुभ कामनाएं ...माँ दुर्गा जी की असीम अनुकम्पा सदा आप पर बनी रहे ...जय हो !!!

sheetal said...

Aapko dusshehra ki dher saari subhkamnai.

Poetry said...

Beautiful post.

P.N. Subramanian said...

आपको दुर्गापूजा की बधाइयाँ.