Sunday, April 19, 2009


आपके प्यार ने ज़िन्दगी को एक मकसद दिया है,
हर सुख दुःख में मैंने आपका एहसास किया है,
जब भी झपके पलक आपकी तो समझ लेना,
आपकी जान ने आपको याद किया है !!

21 comments:

श्यामल सुमन said...

बहुत खूब। कम शब्दों मे अनमोल बातें। बधाई। कहते हैं कि-

खुशबू तेरे बदन की मेरे साथ साथ है।
कह दो जरा हवा से तन्हा नहीं हूँ मैं।।

कहीं पे देखा कि आपका संबंध जमशेदपुर शहर से रहा है। एक जमशेदपुरियन होने के नाते आकर्षण भी हुआ।

श्यामल सुमन said...

बहुत खूब। कम शब्दों मे अनमोल बातें। बधाई। कहते हैं कि-

खुशबू तेरे बदन की मेरे साथ साथ है।
कह दो जरा हवा से तन्हा नहीं हूँ मैं।।

कहीं पे देखा कि आपका संबंध जमशेदपुर शहर से रहा है। एक जमशेदपुरियन होने के नाते आकर्षण भी हुआ।

सादर
श्यामल सुमन
09955373288
मुश्किलों से भागने की अपनी फितरत है नहीं।
कोशिशें गर दिल से हो तो जल उठेगी खुद शमां।।
www.manoramsuman.blogspot.com
shyamalsuman@gmail.com

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

जिन्दगी का लक्ष्य केवल प्यार का संसार है।
प्रेमियों के वास्ते ये प्यार इक उपहार है।।

डॉ. मनोज मिश्र said...

अरे वाह ,बहुत सुंदर .

परमजीत बाली said...

बहुत बढिया!!

आलोक सिंह said...

बहुत सुन्दर
प्यार एक विश्वास है जो दिलो को मिलाता है
"हर सुख दुःख में मैंने आपका एहसास किया है,"

आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल' said...

प्यार को बस प्यार ही तो प्यार का उपहार है.
साधना है 'सलिल' की, स्वासों का, बन्दनवार है.

-divyanarmada.blogspot.com
-sanjivsalil.blogspot.com

sujata said...

very well written Urmi..it keeps amazing me how well you think and how quickly you write the shayaris..you have a fan in me..keep writing and keep smiling always

Science Bloggers Association said...

बहुत खूबसूरत कता।

-----------
खुशियों का विज्ञान-3
एक साइंटिस्‍ट का दुखद अंत

sanjaygrover said...

हुज़ूर आपका भी एहतिराम करता चलूं ...........
इधर से गुज़रा था, सोचा, सलाम करता चलूं ऽऽऽऽऽऽऽऽ

चंदन कुमार झा said...

बब्ली जी आपकी सारी रचनायें एक से एक है.बहुत हीं बेहतरीन लिखती है आप.

मेरे ब्लाग पर आने के लिये धन्यवाद.कृप्या यूं हीं मनोबल बढाते रहियेगा.

VisH said...

yaar aapke sher to my god it awsome yaar ...there is good combination in between sher and Pictures......wahhhhoooo


Mere blog par aate rahen....aapki pratikriyao ka itzar rahega .....


jai Ho mangalmay ho

RAJNISH PARIHAR said...

very nice blog,,THANX

अभिन्न said...

जब भी झपके पलक आपकी तो समझ लेना,
आपकी जान ने आपको याद किया है !!
.......
बहुत रूमानी और सुन्दर शेर
धन्यवाद

mark rai said...

realy ...aap ka blog kaphi achchha laga....kahin kahi ise miss kar raha tha...ab jaker kami puri ho gayi...thanks for inviting...

Mumukshh Ki Rachanain said...

"जब भी झपके पलक आपकी तो समझ लेना,"

बेइन्तह प्यार का इज़हार करने को, याद को पलक झपकते याद दिलाने को....

उपरोक्त पंक्ति बहुत मायने रखती है.

सुन्दर शेर प्रस्तुति पर बधाई.

चन्द्र मोहन

anupam mishra said...

विचारों की धनी हैं आप, ऑस्ट्रेलिया में रहने के बाद भी हिंदुस्तानी संस्कृति की अच्छी जानकार मालूम होती हैं.....सुंदर शायरियां

अनिल कान्त : said...

Mohabbat wakayi bahut khoobsurat ehsaas hai

mahashakti said...

टिप्‍पणी के लिये अभार, आपका ब्‍लाग भी सुन्‍दर है

MUFLIS said...

itne km shabdoN meiN mn ki itni
gehri baat keh dena koi sehaj baat nahi...lekin aapki lekhni ka kamaal
qaabil.e.tareef hai....
mubarakbaad qubool farmaaeiN.
---MUFLIS---

Bahadur Patel said...

bahut hi badhiya hai.
badhai.