Thursday, October 7, 2010


जब याद करते हैं किसीको,
वो वक़्त सुहाना होता है !
उठ जाती है कलम लिखने को,
वो प्यार दीवाना होता है !
कर देती है हाल--दिल बयान,
वो कलम शायराना होता है !

42 comments:

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत खूब शायराना अंदाज़ ..

Akhtar Khan Akela said...

bbli bhn bhut khub nyaa andaaz nye alfaaz mzaa aa gyaa sath men fotograafi ne to bs charchand lgaa diyen bhnji yeh koi mkkshn baazi nhin aek bhaayi ki aek bhn ke lekhn pr schche dil se di jaane vali bdhaayi he . akhtar khan akela kota rajsthan

Poorviya said...

sunder sunder likha karo .

Kewal Ram said...

Sunder andaz hai aapki abhivyakti ka ,
sunder or man ko bhane wali shayari

mahendra verma said...

सुंदर शायरी , सुंदर भाव...आभार।

ताऊ रामपुरिया said...

बहुत सुंदर.

रामराम.

खबरों की दुनियाँ , भाग्योत्कर्ष said...

bahut khub .

AlbelaKhatri.com said...

क्या बात है.........

बहुत ख़ूब !

मज़ा आया पढ़ कर.......

मनोज भारती said...

यादें...कलम ...हाल-ए-दिल...शायराना

बहुत खूब पिरोया है आपने जज्जबातों को ।

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

बबली की शायराना कलम को सलाम!!

डॉ टी एस दराल said...

ये शायराना अंदाज़ भी बहुत अच्छा लगा ।

lokendra singh rajput said...

जैसे आपकी कलम भी शायरान है...... और आपकी शायरी पढ़कर हम ही हो जाते शायराना हैं।

Sumandebray said...

bahut accha
bahut badiya

SACCHAI said...

" aapke is andaz ko salam "

--eksacchai { AAWAZ }

राहुल गाँधी याने .. सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली |

http://eksacchai.blogspot.com/2010/10/blog-post_07.html#links

शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' said...

जब याद करते हैं किसीको,
वो वक़्त सुहाना होता है !
उठ जाती है कलम लिखने को,
वो प्यार दीवाना होता है !

बहुत अच्छा लगा ये अंदाज़.

हास्यफुहार said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति। नवरात्रा की हार्दिक शुभकामनाएं!

अजय कुमार said...

बढ़िया है ,बधाई ।

anjana said...

नवरात्रि की आप को बहुत बहुत शुभकामनाएँ ।जय माता दी ।

anjana said...

बहुत खूब,बबली जी,बहुत अच्छा लिखा...

sheetal said...

jab yaad karte hain kisi ko,
wo waqt suhana hota hain.
sach hi hain,jab hum kisi ko yaad karte hain to wo waqt wakai bahut hi suhana hota hain.
khubsurat ehsaas.
aur aapke dwaara banaiye gayi tasveer bhi bahut khubsurat hain.aapki shayri ke saath saath aapki chitrakari ka jawaab nahin.

sheetal said...

Aapko aur aapke parivaar ko navratri ki hardik subhkamnai.

मुन्नी बदनाम said...

very good babli darling

वन्दना said...

बहुत सु्न्दर अन्दाज़्।

BK Chowla, said...

Brilliant poem.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

यह त्रिवेणी छंद तो बहुत शानदार रहा!

Akanksha~आकांक्षा said...

बहुत सुन्दर भाव...बधाई.

RAJNISH PARIHAR said...

कुछ लोग और कुछ यादें ऐसी होती है जिनकी याद भर आने से कितने ही ख्याल मन में आने लगते है .....ऐसे में शायरी तो अपने आप ही बन जाती है...बहुत अच्छा लगा पढ़ कर.......

महफूज़ अली said...

सुंदर शायरी , सुंदर भाव...

डॉ. नूतन - नीति said...

आपका हाले दिल बयां अच्छा लगा .. तस्वीरों का रंग भी खूब जमां

Mrs. Asha Joglekar said...

सुंदर शायरी सुंदर चित्र ।

Arshad Ali said...

Wah!11

babli jee phir se ek dhamakedar prastuti.

chitra said...

Thoughts really flow thru' the pen.Good one!!

P S Bhakuni (Paanu) said...

नवरात्र के पावन अवसर पर आपको और आपके परिवार के सभी सदस्यों को हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई!

KK Yadava said...

खूबसूरत अभिव्यक्तियाँ..शानदार प्रस्तुति...बधाई.

VIJAY KUMAR VERMA said...

बहुत ही सुन्दर प्रस्तुति

JHAROKHA said...

बहुत ही लाजवाब पंक्तियां---सुन्दर्। नवरात्रि की हार्दिक मंगलकामनायें स्वीकारें।

singhsdm said...

उर्मी जी
पुनश्च, खूबसूरत भावों से युक्त क्षणिका प्रस्तुत कि आपने......
बहुत अच्छी है, चित्रण भी बहुत खूब !!!!
जब याद करते हैं किसीको,
वो वक़्त सुहाना होता है !
उठ जाती है कलम लिखने को,
वो प्यार दीवाना होता है !
कर देती है हाल-ए-दिल बयान,
वो कलम शायराना होता है !

Rameshwar Pooniya said...

Very nice jee, wonderful andaaz.
Thanks for writing and pls keep it.

I extremely love and like Shayari (especially sad and motivational)

Thanks once again
Regards
Rameshwar Pooniya
Tripoli

दिगम्बर नासवा said...

शायराना कलाम से लिखी शायराना शायरी ... बहुत लाजवाब ....

KK Yadava said...

खूबसूरत अंदाज़..पसंद आया.

Kunwar Kusumesh said...

बहुत अच्छी रचना है. दशहरा की हार्दिक बधाई .

कुँवर कुसुमेश
समय हो तो कृपया ब्लॉग:kunwarkusumesh.blogspot.com पर मेरी नई पोस्ट देखें.
Blog:kunwarkusumesh.blogspot.com

जितेन्द्र ‘जौहर’ Jitendra Jauhar said...

ख़ूब सजाकर रखा है आपने अपना ब्लॉग, छोटी-छोटी कविताओं से...बधाई!